राजस्थान रीट परीक्षा की तिथि घोषित, 31000 शिक्षकों की होगी भर्ती

राजस्थान सरकार ने रीट परीक्षा की तिथि की घोषणा कर दी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को अपनी सरकार के दो साल पूरे होने के मौके पर परीक्षा की तारीखों का ऐलान किया। गहलोत ने घोषणा करते हुए कहा कि रीट की परीक्षा 25 अप्रैल 2021 को आयोजित होगी। रीट परीक्षा के जरिए राज्य में 31000 शिक्षकों की भर्ती होगी। बहुत जल्द रीट का नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा। राज्य के शिक्षा मंत्री गोविंद डोटासरा ने ट्वीट कर कहा, 'मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  ने राज्य सरकार के 2 साल के सफल कार्यकाल पर प्रदेश के लाखों युवाओं को राहत देते हुए 31000 पदों पर रीट परीक्षा 25 अप्रैल 2021 को करने की घोषणा की। सभी युवाओं को बहुत बहुत बधाई।'

पात्रता अंकों में 5 से 20 फीसदी तक की छूट

इससे पहले गुरुवार को शिक्षा विभाग ने रीट अध्यापक पात्रता परीक्षा में विभिन्न वर्गों को पासिंग मार्क्स में रियायत देने का ऐलान किया। कई वर्गों को पात्रता अंकों में छूट दी गई। आदेश के मुताबिक रीट आरक्षित वर्गों को पात्रता अंकों में 5 फीसदी से लेकर 20 फीसदी अंकों तक की रियायत मिलेगी। अब कुछ ही दिनों में रीट नोटिफिकेशन 2020 जारी कर दिया जाएगा। गौरतलब है कि रीट की पात्रता के लिए 60 फीसदी मार्क्स अनिवार्य है। नए आदेश के मुताबिक सामान्य वर्ग ( टीएसपी व नॉन टीएसपी क्षेत्र)  के लिए पात्रता अंक 60 फीसदी, एसटी (नॉन टीएसपी क्षेत्र) के लिए 55 फीसदी और एसटी (टीएसपी क्षेत्र) 36 फीसदी तय किए गए हैं। वहीं एससी, ओबीसी, एमबीसी, ईडब्ल्यूएस वर्ग ( टीएसपी व नॉन टीएसपी क्षेत्र) के लिए पात्रता अंक 55 फीसदी निर्धारित किए गए हैं। इससे पहले 2015 और 2017 में हुई रीट में सभी वर्गों के लिए पात्रता प्राप्त करने के लिए कम से कम 60 फीसदी अंक प्राप्त करने जरूरी थे।

3 साल की वैधता

रीट के पात्रता प्रमाण पत्र की वैधता जारी होने की तारीख से 3 वर्ष की अवधि तक रहेगी। इससे पहले भी रीट की पात्रता 3 वर्ष तक के लिए ही रही है। 2015 से पहले इसकी वैधता 7 साल की थी।